Kashmir a heaven now bloodied: Bengal land of patriots now spreads Jihad ?

Kashmir a heaven, Bloodied, West Bengal, Land of patriots, Jihad, Bhaiyaji Dani, GuruJi, Deendayal Murder, 1068, Hizbul, Musa, Lt Faiyaz, Terrorist, Maulana Barkati, Mini Pakistan, Tipu Sultan Maszid, Modi, Mamta

Sandesh : Govind Sarang, Swamy Yoganand Saraswati BJP Sansad, Sujan Singh Patel MP Govt

Guruji , Vivekanand, Govind Sarang, Yoganand Saraswati, Rastriya Ekta Book, Hindi Book

Rashtriya Ekta : Cover Pages

Anukram : Contents

*

89

हमारी षिक्षा प्रसार और उन्नति की गवोक्तियां व्यर्थ है,यदि हमारे समाज के अनक अंग अज्ञान और उपेक्षा के अंधकार में पड़े रहते हैं।

– प.पू. गुरूजी

जब तक देष में एक कुत्ता भी भूखा है तुम सुख की नहीं कैसे सो सकते हो।

– विवेकानन्द

इस सुविस्तृत धरती की छाती पर अगर कोई ऐसा देष है, जहां आदमी अपने अर्मूत स्वप्न चिरकाल से मूर्त करते आया है तो मैं कहूंगा वह देष भारत ही है।

– रोम्या रोला (फ्रांसीसी विचारक)

अलगाववाद और उग्रवाद का जाल आज देष के विभिन्न भागों में फैला हुआ है। विदेष षक्तियों की षह में देष को खएिडत करने का देषद्रोही कुप्रयास हो रहा है। हमारी सरकार द्वारा इन षक्तियों के खात्मा के लिए जितना प्रयास होना चाहिए उतना उसके द्वारा नहीं हो रहा है। ऐसी स्थिति में देषभक्ति, एकता की भावना एवं देष के लिए सर्वस्य अर्पित करने को हम सब उद्यम रहें। ‘‘राश्ट्रीय एकता‘‘ पुस्तक प्रकाषित कर आप इस दिषा में जो प्रयास कर रहे हैं उसमें सफल हों यही कामना करता हूं। दिनांक-28.02.1992- गोविन्द सारंग

भा.ज.पा.संगठन मंत्री,रायपुर संभाग

एक ही षिव एक ही विश्णु भारत की चारों दिषाओं के चौरासी क्षेत्रों में विराज रहे हैं। उन्हें ह खण्डित कैसे करें। एक ही रामायण, महाभारत, भागवत का विभिन्न प्रदेषों में पाठ होता है। श्रीराम और श्री कृश्ण समस्त भारत में सर्वत्र पूजे जाते हैं। -आचार्य क्षितिमोहन सेन

-0-

स्वामी योगानन्द सरस्वती,भाजपा संसद, दिनांक-28.02.1992

‘‘योगाश्रम‘‘ बाराकला (भिण्ड)

उग्रवाद को एकता यात्रा बढ़ावा मिला है, कहने वाले नितान्त भ्रम में है। राश्ट्रीय ध्वज श्रीनगर के लाल चौंक में नहीं प्रत्युत उग्रवादियों की छाती पर फहराया गया है। धन्य है जोषी जी और उनके साथी। उनके अडिग साहस, असीम निर्भयता की जितनी प्रंषसा की जाए कम ही है। साक्षात यमराज (मृत्यु)के सम्मुख देहाध्यास से विमुक्त हुए बढ़ते ही गए और लक्ष्य प्राप्त किया। कांग्रेस के षासनकाल में आज डेढ़ लाख वर्ग कि.मी. भूमि पाकिस्तान और चीन के पैरों तले रौंदी जा रही है। अब भारत माता का मस्तक काष्मीर भी सिसकता जा रहा है। एकता यात्रा से काष्मीर समस्या को सुलझाने की प्रारम्भिक भूमिका तैयार हुई है।                                                                -0-

जिस तरह अलगाववाद, उग्रवाद देष की षांति व्यवस्था के लिये प्रष्नचिन्ह खड़ा कर रहे हैं निष्चित की चिन्ता जनक है। मेरे मत से आज देष को राश्ट्रवाद एवं मानवाद के रास्ते पर आना चाहिए। राजनैतिक स्वार्थो

से हटकर विचार करें, मुझे पूर्ण विष्वास है भारतीय जनता पार्टी की एकता यात्रा मार्गदर्षक होगी।                     स्थानीय षासन एवं नगरीय कल्याण राज्य मंत्री

म.प्र. षासन भोपाल

-सुजान सिंह पटेल

__________________________________________________________________________